Bharatart

Raj / Khalilabaad

Raj

Raj

Industry:
Actor
City:
Khalilabaad

QUICK OVERVIEW

मैं राज विश्वकर्मा। मेरा बचपन से लेकर पढ़ाई लिखाई तक सब खलीलाबाद में ही बीता। मुझे बचपन से ही सिंगिंग और एक्टिंग का शौक था। मायानगरी में कदम रखने की कहानी भी बहुत ही रोचक है। मैंने तो कभी सोचा भी नहीं था कि मैं गायक और एक्टर बनुंगा। लेकिन एक बार मेरे क्षेत्र में एक फिल्म की शूटिंग चल रही थी। और कछार क्षेत्र में भैंस चराते हुए गाना गा रहा था। फिल्म की यूनिट से प्रोड्यूर को मेरा गाना पसंद आया और उन्होंने मुझे गाने का एक मौका दिया। यहीं से मेरी मायानगरी की यात्रा की शुरूआत हुई। शुरूआत में कुछ अड़चने भी आईं लेकिन वो सब सुलझती चली गई। जैसे मैंने जिस पहली फिल्म के लिए गाना गाया था वो आज तक रीलिज नहीं हो पाई। कारण उस फिल्म की शूटिंग की दौरान कैमरामैन और प्रोड्यूसर के व्यवहार से दुखित हो फिल्म की नायिका ने नदी में छलांग लगाकर आत्महत्या कर लिया और वो फिल्म हमेशा के लिए ठंडे बस्ते में चला गया।     मेरा पैत्रिक व्यवसाय लोहे के कारखाने का है। जो आज भी चलता है और मैं भी उसमें अपनी सहभागिता सुनिश्चित करता हूं। अब तक आगनार्जर के साथ मिलकर लगभग मैंने 6000 से ज्यादा स्टेज शो किया। मुम्बई में रहने के दौरान दर्जनों फिल्मों और कई दर्जन थियेटर शो में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। आज मेरे कई गाने मार्केट में चल रहे हैं। दो एल्बम की रिकार्डिंग भी पूरी हो चुकी है जो जल्द ही आप लोगों के सामने आएगी। मेरे दोस्त और भाई समान एक प्रोड्यूसर है रोली जी जो मेरे ज्यादातर कामों को प्रोड्यूस करते हैं। 2011 में तोहार होठ बाटे लाल नाम से मेरा पहला एल्बम आया। कई फिल्मों में भी मेरे गाने आए। और आप लोगों का प्यार और दुलार इसी तरह मिलता रहा तो आगे और बड़ी उपलब्धियों के साथ आपके सामने आता रहुंगा। इसी उम्मीद के साथ आपका भोजपुरी का सुप्रसिद्ध गायक आप लोगों को नए नए रूप में दिखता रहेगा।

HOW TO REACH?

Mobile: 9452951000
Email: contact@bharatart.com

About

मैं राज विश्वकर्मा। मेरा बचपन से लेकर पढ़ाई लिखाई तक सब खलीलाबाद में ही बीता। मुझे बचपन से ही सिंगिंग और एक्टिंग का शौक था। मायानगरी में कदम रखने की कहानी भी बहुत ही रोचक है। मैंने तो कभी सोचा भी नहीं था कि मैं गायक और एक्टर बनुंगा। लेकिन एक बार मेरे क्षेत्र में एक फिल्म की शूटिंग चल रही थी। और कछार क्षेत्र में भैंस चराते हुए गाना गा रहा था। फिल्म की यूनिट से प्रोड्यूर को मेरा गाना पसंद आया और उन्होंने मुझे गाने का एक मौका दिया। यहीं से मेरी मायानगरी की यात्रा की शुरूआत हुई। शुरूआत में कुछ अड़चने भी आईं लेकिन वो सब सुलझती चली गई। जैसे मैंने जिस पहली फिल्म के लिए गाना गाया था वो आज तक रीलिज नहीं हो पाई। कारण उस फिल्म की शूटिंग की दौरान कैमरामैन और प्रोड्यूसर के व्यवहार से दुखित हो फिल्म की नायिका ने नदी में छलांग लगाकर आत्महत्या कर लिया और वो फिल्म हमेशा के लिए ठंडे बस्ते में चला गया।

    मेरा पैत्रिक व्यवसाय लोहे के कारखाने का है। जो आज भी चलता है और मैं भी उसमें अपनी सहभागिता सुनिश्चित करता हूं। अब तक आगनार्जर के साथ मिलकर लगभग मैंने 6000 से ज्यादा स्टेज शो किया। मुम्बई में रहने के दौरान दर्जनों फिल्मों और कई दर्जन थियेटर शो में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। आज मेरे कई गाने मार्केट में चल रहे हैं। दो एल्बम की रिकार्डिंग भी पूरी हो चुकी है जो जल्द ही आप लोगों के सामने आएगी। मेरे दोस्त और भाई समान एक प्रोड्यूसर है रोली जी जो मेरे ज्यादातर कामों को प्रोड्यूस करते हैं। 2011 में तोहार होठ बाटे लाल नाम से मेरा पहला एल्बम आया। कई फिल्मों में भी मेरे गाने आए। और आप लोगों का प्यार और दुलार इसी तरह मिलता रहा तो आगे और बड़ी उपलब्धियों के साथ आपके सामने आता रहुंगा। इसी उम्मीद के साथ आपका भोजपुरी का सुप्रसिद्ध गायक आप लोगों को नए नए रूप में दिखता रहेगा।

Achievements

In Media

Events

Photo Gallery